सॉफ्टवेयर आर्किटेक्चर कैसे बनें ? | Become Software Architecture

सॉफ्टवेयर आर्किटेक्चर कैसे बनें ?

सॉफ्टवेयर आर्किटेक्चर कैसे बनें : जब कोई ब्यक्ति सॉफ्टवेयर Development क्षेत्र में करियर बनाने का फैसला करता है | तो उसके दिमाग में हमेशा एक बात आती है कि कैरियर कैसे आगे बढ़ेगा ? और भविष्य में क्या होगा कई सारे सर्वे के आधार पर कहा जा सकता है कि सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट का भविष्य उज्जवल लगता है |

तो आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि एक आर्किटेक्ट बनने के लिए क्या करना चाहिए ? और कौन-कौन से Skills Develop करने चाहिए ? और अंत में हम आपको कुछ खास टिप्स भी देंगे इस फिल्ड में बेस्ट बनने के लिए, तो चलिए जानते हैं कि सॉफ्टवेयर आर्किटेक्चर कैसे बनें ?

Also Read : वेंटीलेटर क्या है ? | वेंटीलेटर कैसे काम करता है ?

सॉफ्टवेयर आर्किटेक्चर कैसे बनें ?

Science Students के लिए बहुत सारे Career Options मौजूद होते हैं | लेकिन अगर आप एक सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट बनना चाहते हैं |तो कई तरह के Educational Qualification और साथी और साथ ही Experience होना चाहिए जो इस लाइन में आगे बढ़ना चाहते हैं वह अमूमन मास्टर्स डिग्री करते हैं कंप्यूटर साइंस में तो चलिए लाइन से समझते हैं |

1. पढाई पूरी करना :

पहले तो आपको 12th पास करके किसी भी अच्छे कॉलेज में कंप्यूटर साइंस में बीएससी करना होगा | इसके लिए आपके पास 12th में Science Stream होनी चाहिए | जिसमें एक सब्जेक्ट कंप्यूटर साइंस होना चाहिए | इसके बाद अगर आप चाहे तो IGNOU से भी बीएससी कर सकते हैं | और कई सारे ऐसे Successful Developers हैं | जिन्होंने कोई ग्रेजुएशन डिग्री नहीं की लेकिन आज एक Successful Software Architect है |

Also Read : मेमोरी पावर कैसे बढाये ? | How to Improve Memory Power ?

इसके लिए आपको खुद से सब कुछ सीखना होगा | या Tution या ऑनलाइन क्लास के जरिये | आप बैचलर ऑफ कंप्यूटर साइंस, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी या बैचलर ऑफ सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में से कोई सा भी कोर्स कर सकते हैं | इसके अलावा भी आप सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट से रिलेटेड कोई और कोर्स कर सकते हैं | और अगर आप ग्रेजुएशन कोर्स चुनते हैं तो इसके बाद अगर आप मास्टर डिग्री भी कर लेते हैं | तो यह आपके करियर को और भी एडवांस बना देगा |

वैसे तो बहुत सारे Collage है | जहां से आप ये सब कोर्स कर सकते हैं | लेकिन कुछ के बारे में हम आपको बता रहे हैं

  1. बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड साइंस (बिट्स पिलानी)
  2. थापर इंस्टीट्यूट आफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी
  3. जामिया मिलिया इस्लामिया (JMI)
  4. I.I.I.T हैदराबाद
  5. IIT खड़कपुर
  6. Indian Institute of Science

2. Experience इकठ्ठा कीजिये :

अपने ग्रेजुएशन कोर्स करने के साथ ही आपको Experience भी इकठ्ठा करना होता है | क्योंकि अगर आप अपनी पढ़ाई के दौरान ही Internship के जरिए या किसी भी तरह के काम के जरिए Experience लेते हैं | तो आपका ग्रेजुएशन होते होते आपके पास अपनी क्लास के बाकी बच्चों के मुकाबले ज्यादा अनुभव होता है | जिससे कॉलेज प्लेसमेंट में या Higher Education में आप अपने Collage के सभी छात्रों के मुकाबले आगे रहते है |

आपको कंप्यूटर प्रोग्रामर और सॉफ्टवेयर Developer के तौर पर काम करके Experience लेना होता है | एक सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट को जरूरत है कि वह अलग अलग लैंग्वेज के सिमट्म्स को समझ सके, और Codes लिख सके | इसमें एक्सपर्ट होने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप ज्यादा से ज्यादा Experience Gain करें |

Also Read : पेटीएम में जॉब कैसे पाए ? | पेटीएम क्या है Meaning in Hindi ?

3. Development Team में काम करना सीखें :

आपको यह तो पता ही होगा कि Success की आखिरी सीढ़ी तक पहुंचने के लिए सबसे पहले पहली सीढी पर पैर रखना होता है | Development Team में काम करना उसी Success की सीढ़ी का तीसरा कदम होता है | पहले और दूसरे की चर्चा तो हम कर ही चुके हैं | तो Development Team में काम कैसे करें ?

जब आप किसी इंटर्नशिप या किसी नई जॉब पर जाते हैं | तो वहां पर सॉफ्टवेयर Developers को Team में किसी प्रोजेक्ट पर काम करना पड़ता है | ऐसे में आपको टीम Work आना चाहिए | जितना आप अपने colleagues को Co operate करेंगे उतना ही आपके जल्दी आगे बढ़ने के चांसेस होंगे |

4. Software Design Pattern और Architecture के बारे में जितना हो सके सीखें : 

क्योंकि अगर आप एक सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको डिजाइन और आर्किटेक्चर की पूरी जानकारी होनी चाहिए 1 दिन को भी Lead करने के लिए भी इस तरह की जानकारी की जरूरत आपको पड़ेगी |

Also Read : फोटोग्राफी में अपना Career कैसे सुरु करें ?

5. Programming Concepts की पूरी जानकारी रखें :

एक सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट रूप में अपना करियर शुरू करने के लिए आपको हमेशा प्रोग्रामिंग भाषाओं और रूपरेखाओं का सही ज्ञान होना चाहिए | एक सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट के रूप में आपको पूरे दिन कोडिंग नहीं करनी होती है | लेकिन आपको एक Developers की Team Lead करना है | जिसके लिए आपको कोडिंग में एक्सपोर्ट होना पड़ेगा | कोडिंग की जरूरत तब होती है | जब आपको बाकी टीमों के साथ सहयोग करना हो | Code की समीक्षा करनी हो, या किसी और जरूरी मौके पर Code की गलतियों को ठीक करना हो |

सॉफ्टवेयर आर्किटेक्चर कैसे बनें ?

इसीलिए आपको प्रोग्रामिंग कॉन्सेप्ट्स की पूरी समझ होनी चाहिए | अपने कोर्स के दौरान ही आप विभिन्न प्रोग्रामिंग भाषाओं, जैसे – C++, Python, Ruby, Go Programming आदि के साथ प्रोग्रामिंग सीखना शुरू कर सकते हैं | इसके अलावा आप कई छोटे प्रोजेक्ट बना सकते हैं | जिसे आप अपने ब्लॉग पर डाल सके, और बाकी लोग उसे देख सके और आपके अपने प्रोग्रामिंग Skills को बढ़ाने के लिए कई सारे कोडिंग चैलेंज में भी भाग ले सकते हैं |

6. एक Software Developer के रूप में IT की दुनियां में Enter करें :

सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट एक एंट्री लेवल करियर Domain नहीं है | मतलब आप किसी कंपनी में जाते ही सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट नहीं बन सकते इसे सॉफ्टवेयर Developers की पोस्ट में से ही एक माना जाता है | इसीलिए आपको पहले किसी Developer की प्रोफाइल पर Experience प्राप्त करना होगा |

इसी बीच Coding Skills के अलावा आपको एक सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट बनने के लिए Developer के रूप में ही कई और चीजों को भी समझना होगा | जैसे ही टीम वर्क और Task Allotment प्रोजेक्ट्स के SDLC Phases की समझ Client के लिए Requirement और Analysis करना आदि |

Also Read : Bitcoin Meaning in Hindi ? | What is Bitcoin ? 

7. सारे Concepts Clear करें :

एक बार जब आप Software Development की फील्ड में प्रवेश कर जाते हैं | और प्रोग्रामिंग लैंग्वेज और फ्रेमवर्क में एक्सपर्ट हो जाते हैं | तो अब आपको अपने गोल के लिए काम करना है | मतलब अब आपको एक सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट बनने के लिए अपने Skills को अपडेट करना है | एक सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट कई कार्यों के लिए जिम्मेदार है | इसीलिए आपको कई इंपॉर्टेंट डोमेन, जैसे – सिस्टम डिजाइन, Development Operation, DEV Ops.

जैसे कई Advance चीजों से परिचित होना होगा | एक सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट के रूप में अपना करियर शुरू करने के लिए आपको डिजाइन पैटर्न, आर्किटेक्चर, Modeling के Fundamentals, Unified Modeling Language (UML) और ऐसे कई सारे गहरे Concepts की समझ होनी चाहिए | 

8. Certificates Collect करें :

चलिए जान लेते है कि एक सॉफ्टवेयर के लिए कौन-कौन से सर्टिफिकेशंस की जरूरत होती है | यह सर्टिफिकेशंस आपकी Studies और Skills को मान्यता देते हैं | इसके अलावा इन प्रमाणपत्रों को रखने से आप आईटी दुनिया में करियर के विभिन अवसर प्राप्त करने में मदद ले सकते हैं | कई प्रतिष्ठित प्रमाण पत्र है| जो आप अपने इंट्रेस्ट के अनुसार प्राप्त कर सकते हैं | इन प्रमाण पत्रों में से कुछ है | ISAQB Software Architecture Foundation Level, CITA-P (Certified IT Architect), ITIL Master (Axelos), (Azure) Architect Certification 

तो दोस्तों हम आशा करते है कि हमारा ये आर्टिकल आपको पसंद आया होगा और आप जान भी गये होंगे कि सॉफ्टवेयर आर्किटेक्चर कैसे बनें ? और आपको इसके बारे में और भी जरूरी जानकारी आपको मिल गयी होगी अगर इससे जुड़ा हुआ आपका कोई भी सवाल है तो आप हमसे Comment Box में पूछ सकते है |

Also Read : NRA क्या है ? | NRA Meaning in Hindi full Information

Dheeru Rajpoot

I am Dheeru Rajpoot an Entrepreneur and a Professional Blogger from the city of love and passion Kanpur Utter Pradesh the Heart of India. By Profession I'm a Blogger, Student, Computer Expert, SEO Optimizer. Google Adsense I have deep knowledge and am interested in following Services. CEO - Dheeru Blog ( Dheeru Rajpoot )

This Post Has 5 Comments

Leave a Reply