Real Estate meaning in hindi | Real Estate Business कैसे सुरु करें

Real Estate meaning in hindi : Real Estate ये एक ऐसा Term है जिसे आपने कहीं ना कहीं पढ़ा या सुना जरूर होगा इसका सीधा सा मतलब यह है जमीन या घर बेचने का व्यापार | जिसमें उनकी मैनेजमेंट ऑपरेशन और इन्वेस्टमेंट में डील होती है | दिल्ली, मुंबई, न्यूयॉर्क, शांघाई, हांगकांग या दुनिया के किसी भी शहर में चले जाइए रियल इस्टेट करोड़ों डॉलर का कारोबार हो गया है |

Real Estate meaning in hindi | Real Estate Business कैसे सुरु करें
Real Estate meaning in hindi | Real Estate Business कैसे सुरु करें

10 से 20 लाख के 1 बीएचके फ्लैट से लेकर के अरबों के अपार्टमेंट तक रियल स्टेट में लोगों को उनकी जरूरत और ऐसो आराम का ख्याल रखते हुए घर बनाए जा रहे हैं | इनमें जिम, स्विमिंग पूल, गोल्फ कोर्स, मिनी शॉपिंग कंपलेक्स, मेडिकल फैसिलिटी, Clubs, Sports Areas, गार्डन जैसी हर वो फैसिलिटी रहती है जो आपको Luxurious Feel करवाती है | 

Real Estate meaning in hindi | Real Estate Business कैसे सुरु करें

Real Estate meaning in hindi : जब भी आप किसी शहर में जाते हैं तो जो बड़ी बड़ी बिल्डिंग बन रही होती है | वह सभी रियल स्टेट का हिस्सा है जिनमें अपार्टमेंट हॉस्पिटल, शॉपिंग कंपलेक्स, फ्लैट ये सबकुछ शामिल होता है |

2019 तक इंडियन रियल स्टेट का कारोबार 6 बिलियन डॉलर पार कर चुका था और बढ़ता ही जा रहा है और आज आपको हम फुल केस स्टडी करके बतायेंगे कि Real Estate meaning in hindi, How to Start Real Estate Business ? | Real Estate Business कैसे सुरु करें ? | आइए जानते हैं-

1. जरूरत है एक कारगर Idea Develop करने की :

रियल स्टेट एक ऐसा Field है जहां पर बहुत तगड़ा कंपटीशन है | आप किसी भी शहर में चले जाइए आपको कोई ना कोई इस बिजनेस को करता हुआ तो दिख ही जाएगा | अगर आप इस Field में सक्सेस पाना चाहते हैं | तो आपको अपनी Strength, अपनी Weakness और अपनी इंटरेस्ट को पहचानना पड़ेगा | रियल स्टेट में सबसे जरूरी बात है सिलेक्शन ऑफ लोकेशन |

कोई ऐसी जगह चुनिए जहां पर आप लोगों को यह Convince कर पाए कि अगर वो इस जगह पर प्रॉपर्टी में इन्वेस्ट करते हैं | लैंड परचेज करते हैं या फिर फ्लैट या अपार्टमेंट लेते हैं तो उन्हें क्या सुविधा मिलेगी और उनको आपकी प्रॉपर्टी क्यों खरीदनी चाहिए |

ऐसे बहुत सारे सवालों का जवाब मिलना चाहिए | जिससे कि वह संतुष्ट हो और इसके लिए आपको थोड़ी देर चार्ज करनी पड़ेगी कि बाकी बिल्डर या रियल एस्टेट डेवलपर्स ने कहां काम किया है | या कर रहे हैं और पब्लिक के बीच उनका रिस्पांस कितना है |

Real Estate meaning in hindi
Real Estate meaning in hindi

इसके अलावा भी आप किस तरह के कस्टमर को अपना Buyers बनाना चाहते हैं |इसमें भी आपका सक्सेस रेट काफी डिपेंड करेगा | क्या आप मिडिल क्लास को उनके सपनों का घर देना चाहते हैं, या फिर अपर क्लास को एक स्टेटस सैंपल | आपको उसी आईडिया पर आगे बढ़ते हुए कंस्ट्रक्शन करवाना होगा |

2. Execution Without Planning का मतलब Failure :

जी हां Business चाहे कितना ही छोटा क्यों ना हो| उसमें इनवेस्टमेंट होती है | तो उसे प्रॉफिट में बदलने के लिए चाहिए सॉलिड प्लानिंग, रियल एस्टेट के साथ भी ऐसा ही है |

अब ये कोई चाय की दुकान खोलने जैसा तो नहीं है कि आप ₹10 की चाय पिला रहे हैं | इसीलिए प्रोजेक्ट हैंडलिंग से लेकर के कंस्ट्रक्शन क्वालिटी, एश्योरेंस, डिलीवरी फिर मैनेजमेंट हर बार आपको अपने कस्टमर का भरोसा जीतना होता है | इसलिए आपके Plan में ये चीजें होनी ही चाहिए |

(i). Market Research :

आप अपने Business में किस तरह के लोगों को Service देना चाहते हैं | आपके प्रोडक्ट का सेगमेंट क्या है | Geographic लोकेशन और आप लोगों की कौन सी जरूरतों को पूरा करना चाहते हैं | ये सभी आपके पास डॉक्युमेंटेड होनी चाहिए | ताकि आप अपना Purpose बता पाए |

एक कस्टमर के तौर पर आप रियल एस्टेट प्रोजेक्ट को विजिट करें उनसे उनका बुकलेट ले आइए ताकि आपको एक ब्रीफ आईडिया लग जाए कि बाकी कंपीटीटर्स क्या और कैसी सर्विस दे रहे हैं |

(ii). Sales & Marketing Plan :

आप अपने रियल एस्टेट Business में क्या अलग कर रहे हैं ये दूसरों से अलग क्यों है आप अपनी मार्केटिंग कैसे करेंगे और आपके प्रोडक्ट कैसे बिकेंगे इसके लिए आपको Professional Team की जरूरत पड़ेगी |

(iii). Management Plan :

ऊंचाई पर पहुंचना मुश्किल नही होता है | वहां पर टिके रहना चैलेंजिंग होता है | रियल एस्टेट के साथ भी कुछ ऐसा ही है आपने अपना प्रोजेक्ट तैयार कर लिया लोगों ने उसे खरीद भी लिया लेकिन उसका मैनेजमेंट मेंटेनेंस इन चीजों पर आपका सक्सेस रेट काफी डिपेंड करेगा और इसके लिए भी आपको लोग रिक्रूट करने होंगे जो इन सारी चीजों की देखभाल करेंगे जिसमे लीगल इश्यूज भी रहेंगे | 

(iv). Financial Plan :

रियल एस्टेट में फाइनेंस या आपकी इन्वेस्टमेंट को मैनेज करने के लिए तीन जरूरी Financial Document होने जरूरी है | Income Statement, Balance Sheet और Cash Flow Statement |

(v). Project की सुरुआत से ही Hire कीजिये एक Lawyer :

यह बहुत जरूरी है रियल स्टेट में आपको हर कदम पर एक लॉयर की जरूरत पड़ेगी | जमीन खरीदना पेपर वर्क करना कोर्ट कचहरी और बाकी लीगल इश्यूज को हैंडल करने के लिए गाइड के तौर पर एक लॉयर आपको हर सिंगल स्टेप पर आपका हेल्पिंग हैंड साबित होगा | अगर कोई भरोसे का लॉयर मिल जाए तो आप उसे बिजनेस पार्टनर भी बना सकते हैं |

(vi). Real Estate Business License :

चाहे आप Real Estate का Business अपने होम टाउन में करें या फिर किसी दूसरे बड़े शहर में, रियल एस्टेट डेवलपर बनने के लिए लाइसेंस बनवाना पड़ता है | क्योंकि कई बार कंस्ट्रक्शन साइट्स पर अनफॉर्चूनेटली Incidence भी हो जाते हैं और कई बार मजदूरों की जान भी चली जाती है | ऐसे में लीगल तरीके से काम करना सबसे बुद्धिमान होगी और अगर आपका पेपर Work पूरा है और आप एक लाइसेंस होल्डर है |

तो इससे कस्टमर्स का भरोसा जीतना भी आसान होता है | इसीलिए आप अपने बिजनेस को प्राइवेट लिमिटेड या लायबिलिटी पार्टनरशिप के तौर पर Register करवा सकते हैं और टैक्स पेमेंट के लिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन भी जरूरी है | लाइसेंस बनवाने के लिए के लिए आपको रेरा या रियल एस्टेट रेगुलेशन एक्ट के अंडर अप्लाई करना होता है |

आप अपने स्टेट में लाइसेंस के लिए अप्लाई कर सकते हैं और इसमें अपने लॉयर की हेल्प भी ले सकते हैं | लाइसेंस की वैलिडिटी 5 साल की होती है इस बात का ध्यान रखें |

(vii). Authentic Website बढ़ाएगा आपका Business :

आजकल कोई भी चीज खरीदने से पहले लोग इंटरनेट पर अपना रिसर्च वर्क कर चुके होते हैं | इसीलिए अगर आप अपने business को Exposer देना चाहते हैं तो एक Authentic Website बनवाइए जहां पर आपके Project की पूरी सही जानकारी रहेगी क्योंकि ज्यादातर कस्टमर पहले वेबसाइट विजिट करते हैं | फिर कहीं जाकर के कंस्ट्रक्शन साइट पर पहुंचते हैं |

(viii). आपके Business Rocket को भी Launch Pad की जरूरत पड़ेगी :

मतलब यह कि आप मार्केट में एक प्रोडक्ट लेकर आए हैं उन लोगों को यह बताने के लिए आपको भी अपनी ब्रांडिंग और मार्केटिंग करनी होगी | प्रिंट मीडिया सोशल, मीडिया इनफ्लुएंसर और पॉपुलर टीवी और रेडियो से Ty Up करके आप अपने पोटेंशियल Buyers तक पहुंच सकते हैं |

साथ ही लकी ड्रॉ या दूसरे अट्रैक्टिव Offers भी आपको Customers तक पहुंचने में हेल्प करेंगे |  तो कुछ इस टाइप की Ideas पर आप काम कर सकते हैं और अब आगे इतना कुछ जानने के बाद बात करें रियल एस्टेट बिजनेस के फायदों के बारे में-

Real Estate Business के फायदे क्या क्या है ?

1. रियल एस्टेट के ढेर सारे फायदे हैं | जैसे कि यह एक guaranteed source of Income है | जिसमें सही प्लानिंग के साथ की गई इन्वेस्टमेंट आपको हमेशा अच्छा रिटर्न दे दी है | आप अपने प्रोजेक्ट को बेचने के साथ-साथ रेंट पर भी दे सकते हैं | जिससे आपको सालों साल एक Fixed Income आती रहेगी | अगर प्रॉपर्टी नहीं भी बिकी तो भी अच्छी लोकेशन पर रेंट पर रहने वाले लोगों की कमी नहीं होगी |

2. आज के टाइम पर लैंड प्रॉपर्टी और रियल एस्टेट पर पैसा लगाना मनी मेकिंग business है क्योंकि आये दिन इनकी कीमत बढ़ती ही रहती है | इसलिए इनकी रीसेल वैल्यू काफी हाई होती है | जिससे आप मोटा पैसा कमा सकते हैं |

3. रियल एस्टेट Business में आने से सोसाइटी में आपका स्टेटस भी बहुत बढ़ जाता है, और जो प्रॉपर्टी आपने बनाई है वह हमेशा के लिए आप की ही रहती है जिसे आप जरूरत के लिहाज से खरीद या बेच सकते हैं | Financially भी ये आपको और आपकी फैमिली को एक सिक्योर फ्यूचर भी देता है |

4. रियल एस्टेट में इन्वेस्ट करने से Government आपको टैक्स बेनिफिट भी देती है | अगर कोई दो करोड रुपए तक का घर खरीदता है | तो उसे टैक्स पर बहुत छूट मिलती है | जो जून 2021 तक वैलिड भी है | इसके अलावा और क्या आपको Benefits मिलेंगे ये आप फाइनेंस मिनिस्ट्री केआत्मनिर्भर Package 3.o में देख सकते है |

Real Estate Developers को Bank से Loan मिलता है ?

अगर आप रियल एस्टेट बिजनेस में अपनी किस्मत आजमाना चाहते हैं पर सोच रहे हैं कि Capital या Funds नहीं है | तो आप बैंक से लोन ले करके भी अपना प्रोजेक्ट शुरू कर सकते हैं | जैसे कंस्ट्रक्शन फाइनेंस या प्रोजेक्ट फाइनेंस में पीएनबीहाउसिंग रियल एस्टेट डेवलपर्स के लिए डायरेक्ट फाइनेंस की सुविधा देता है |

आप इसकी Details www.pnbhousing.com पर Non Home Loans पर चेक कर सकते हैं | इसके अलावा SBI भी अपने होम लोन Schemes में Commercial Real Estates में Loan प्रोवाइड करता है | 

Career In Real Estate Business :

Business के अलावा भी रियल एस्टेट एक ऐसा ग्रोइंग सेक्टर है जहां पर अलग-अलग ढेर सारे करियर ऑप्शंस मौजूद है | जिनमें सही नॉलेज और Skills के साथ आप बेहतर जॉब ऑफर्स पा सकते हैं |

मार्केटिंग फाइनेंस, इंटीरियर्स, इंजीनियरिंग, कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजर और एनालिसिस ये कुछ Experts है जिनके बिना कोई भी रियल एस्टेट डेवलपर आगे बढ़ने की सोच भी नही पाएगा क्योंकि बाकी चीजों की तरह आपका घर भी एक प्रोडक्ट है |

Real Estate meaning in hindi
Real Estate meaning in hindi

जिसकी सही मार्केटिंग ही आपको आपका पोटेंशियल Buyer दिलाता है | जिसके लिए स्किल्स और प्रोफेशनल सेल्स एंड मार्केटिंग के लोग चाहिए होंगे जो आपके Business टारगेट को अचीव कर सके ठीक इसी तरह आपके Business कैपिटल को कहां और कैसे इन्वेस्ट करना है कैसे यूटिलाइज करना है और कम बजट में कैसे ज्यादा आउटपुट निकालना है | इसके लिए आपको काबिल फाइनेंस Team भी चाहिए होगी | ताकि आप Business प्रॉफिट को बढ़ा सकें |

अब अगर जहां कंस्ट्रक्शन होगा  वहां इंजीनियर इंटीरियर डिजाइनर्स, Managers और जरूरी चीजों की सप्लाई के लिए Agents की भी जरूरत पड़ेगी | तो यह तो हमने जाना करियर में संभावनाएं क्या-क्या है | लेकिन इसी के साथ रियल स्टेट है एक रिस्की Business| मतलब यह है कि बाकी Business की तरह रियल एस्टेट में भी रिस्क फैक्टर्स बहुत सारे हैं |

इस बिज़नेस में आपको लाखों करोड़ों रुपए का इन्वेस्टमेंट करना होता है जिसके लिए बहुत ही हिम्मत की जरूरत होती है |

Also Read : Blockchain क्या है ? | What is Blockchain in Hindi

Real Estate Business में रिस्क फैक्टर्स क्या-क्या हो सकते हैं ?

  1.  बहुत से लोग इस सेक्टर में अपना बिजनेस शुरू करने के लिए ढेर सारा कर्जा ले लेते हैं ऐसे में अगर इन्वेस्टमेंट गलत लोकेशन पर या गलत लोगों के साथ हो गई तो पैसे डूबने की पॉसिबिलिटी बहुत ज्यादा बढ़ जाती है और देनदारी बहुत हो जाती है |                                     
  2.  ऐसा नहीं है कि आपने जैसे ही प्रोजेक्ट पूरा किया आपको तुरंत ही कस्टमर खड़ा मिले कई  बार Developers को बिल्कुल सही दाम पर अपने प्रोजेक्ट बेचने और rent पर देने के लिए सालों साल इंतजार करना पड़ जाता है | इसलिए आप में पेशेंस भी होना चाहिए |
  3. कई बार सही रिसर्च नहीं करने पर या लोगों या एजेंट की बातों में आकर के ऐसी लैंड प्रॉपर्टी पर काम शुरू हो जाता है | जो इलीगल निकलती है या जिस पर कोर्ट केस चल रहा होता है या फिर वो जगह किसी Restricted Area में होती है | जहां कई गवर्मेंट लिमिटेशंस लागू होती है | इसलिए लैंड Purchase करने से पहले हर तरह की इन्वेस्टिगेशन आपकी इन्वेस्टमेंट को Secure बनाएगी |                                                                                                                                                                                                                              तो अगर सारे रिस्क Factors को सही तरीके से मैनेज किया जाए तो रियल एस्टेट सोने का अंडा देने वाली मुर्गी जैसी है जिसमें अगर धैर्य के साथ काम किया जाए तो long Term में आप लाखों और करोड़ों में खेल सकते हैं | क्योंकि नौकरी और बेहतर Lifestyle के लिए लोग बड़े शहरों में जा रहे हैं और settle भी हो रहे हैं |

Conclusion :

Real Estate meaning in hindi : अब किसी बड़े शहर में जमीन खरीदकर के घर बनाना सबके बस की बात नहीं है | और इसलिए फ्लैट और अपार्टमेंट्स का कल्चर बढ़ता ही जा रहा है और रियल एस्टेट इंडस्ट्री भी काफी ज्यादा Grow कर रही है | जिसमें दौलत और शोहरत दोनों कमाई जा सकती है |

हम आशा करते है कि रियल एस्टेट बिजनेस पर लिखा हमारा ये आर्टिकल Real Estate meaning in hindi, How to Start Real Estate Business ? आपको पसंद आया होगा और आपको इसके बारे में जानकरी भी मिल गयी होगी |

7309991644

Dheeru Rajpoot

I am Dheeru Rajpoot an Entrepreneur and a Professional Blogger from the city of love and passion Kanpur Utter Pradesh the Heart of India. By Profession I'm a Blogger, Student, Computer Expert, SEO Optimizer. Google Adsense I have deep knowledge and am interested in following Services. CEO - Dheeru Blog ( Dheeru Rajpoot )

This Post Has 9 Comments

Leave a Reply